Maalkhana najir ke kartavya

मालखाना नाजिर के कर्तव्य

प्रत्येक जिला मुख्यालय पर आपराधिक मामलों से संबंधित मालखाना वस्तुओ के लिए एक ‘‘मालखाना‘‘ होता है तहसील स्तर पर भी अपराधिक मामलों से संबंधित मालखाना वस्तुओं के लिए मालखाना होता है इसके प्रभारी को मालखाना नाजिर कहा जाता है तहसील स्तर पर सहायक नाजिर ही नजारत के साथ – साथ मालखाना के कार्य भी संभालते है इन के मुख्य कर्तव्य निम्नानुसार हैः-

      1 आपराधिक प्रकरण की मालखाना वस्तुओं की संबंधित न्यायालय के पीठासीन अधिकारी के आदेशानुसार मालखाने में           जमा करना ।

  1. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह मालखाना वस्तु को जमा करते समय वस्तु की स्थिति और मालखाना पर्चे में दिये गये उसके विवरण की स्थिति को सावधानी पूर्वक देख ले की दोनों विवरण समान है और यदि कोई असमानता पाई जाती है तो उसे दरू करा लेवे साथ ही मालखाना पंजी मे भी वस्तु का पूर्ण और स्पष्ट विवरण लिखे ।
  2. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह यह देखे की मालखाना पर्चे पर अपराध क्रंमाक, वर्ष, संबंधित थाने का नाम आरोपी का नाम और विवरण, प्रकरण क्रमांक, आदि का स्पष्ट उल्लेख है और यदि ऐसे उल्लेख न हो तो उन्हें पूर्ण करावे साथ ही मालखाना पंजी में भी ये सभी विवरण स्पष्ट रूप से करे ताकि भविष्य में कठिनाई न आवे ।
  3. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह माल जमा करने के पश्चात् मालखाना पर्चे पर मालखाना पंजी का क्रमांक अंकित करके लौटावे और यही क्रमांक मालखाना वस्तु पर भी अंकित करे ।
  4. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह मालखाना वस्तुओं का वर्षवार और क्रमवार जमा कर रखे ताकि आवश्यकता पड़ने पर मालखना वस्तु ढूढने में असुविधा न हो ।
  5. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह अपने मालखाना अनुभाग में एक प्लान और इंडेक्स रखे जिसमें वर्षवार और क्रमवार मालखना वस्तुओं की स्थिति और उन्हें रखे जाने की स्थिति दर्शाई गई हो यह प्लान और इंडेक्स एक आयने की तरह होना चाहिए। जिसे देखते ही यह पता लग जावे की कौन सी मालखना वस्तु कहा रखी हुई है। मालखाना नाजिर को इस प्लान और इंडेक्स को प्रत्येक तीन या छैः माह में संशोधित करना चाहिए क्योकि इस बीच कुछ मालखाना वस्तुऐ नई आयेगी और कुछ निराकृत भी होगी अतः मालखाना नाजिर को इस प्लान और इंडेक्स को संशोधित करने की एक कार्ययोजना रखनी चाहिए।
  6. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह संबंधित न्यायालयों से प्रत्येक माह में निराकृत प्रकरणों के मालखाना पर्चे निष्पादक लिपिक/क्रिमिनल रिडिर से संर्पक कर के प्राप्त करे और दिये गये आदेशानुसार मालखाना निस्तारण की कार्यवाही करे यह कार्यवाही प्रभारी अधिकारी महोदय के आदेशानुसार और उनके निर्देशों के अनुरूप करे । मालखाना नाजिर को मालखाना निस्तारण प्रभारी अधिकारी महोदय की उपस्थिति में ही करना चाहिए। मालखाना नाजिर को निलाम योग्य संपत्ति के बारे में प्रभारी महोदय के आदेशानुसार कार्यवाही करना चाहिए।
  7. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह जिस भी न्यायालय से कोई मालखाना वस्तु मगं वाई जाती है उसे समय पर सबं ंि धत न्यायालय में पेश करावे और प्रकरण की कार्यवाही निपटने के बाद उसे वापस संबंधित स्थान पर रखे यह तभी संभव है जब मालखाना उचित रिति से जमा हुआ हो अतः मालखाना वस्तुओं को उचित रिति से जमाकर रखा जावे ।
  8. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह मालखाने की साफ-सफाई का दैनिक/साप्ताहिक/मासिक एक कार्य योजना बनावे और उसके अनुरूप मालखाने की सफाई कराते रहे ताकि मालखाना वस्तुऐ सुरक्षित रहे ।
  9. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह प्रभारी अधिकारी महोदय को मालखाने मे मालखाना वस्तुओं में हुए किसी भी परिवर्तन या क्षति के बारे में तत्काल प्रतिवेदन दे और उनके दिशानिर्देश प्राप्त करे ऐसे परिवर्तन या क्षति क्यों हुई यह भी दर्शावे ।
  10. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह पुराने लंबित मालखाना वस्तुओं के निराकरण के लिए संबंधित न्यायालय के निष्पादक लिपिक से मिल कर संबंधित न्यायालय के पूराने रजिस्टर से या रिकार्ड शाखा के प्रकरण के अभिलेख से भी ऐसे प्रयास करे की मालखाना वस्तुओं का निराकरण समय पर हो जावे ।
  11. मूल्यवान वस्तुएं जैसे जेवर आदि जिन्हें सिलबंद पैकेट में कोषालय में रखा जाना चाहिए। उन्हें मालखाना में न रखे नगदी रूपये यदि वे पंटर नोट या ऐसे नोट जिनके नंबंर से उनकी पहचान हो सकती हो को छोडकर शेष रूपये संबंधित न्यायालय से आदेश प्राप्त करके कोषालय /बैक में जमा करवाना चाहिए ।
  12. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह यह पता लागवे की जिस प्रकरण की मालखाना वस्तु लंबित है वह प्रकरण क्या वास्तव में लंबित है या निपट चुका है कई बार प्रकरण वर्षोपूर्व निपट जाते है और उनकी मालखाना वस्तुऐ अनावश्यक लंबित रहती है अतः इस संबंध में सर्वोत्तम प्रयास किये जावे ।
  13. मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह वर्ष में एक बार लंबित मालखाना वस्तुओं का मालखाना रजिस्टर को साथ रखकर भौतिक सत्यापन करे और लंबित मालखाना वस्तुओं की वर्षवार एक अलग सूची भी रखे जिसमें प्रकरण क्रमांक न्यायालय का नाम आदि विवरण भी लिखे और इस सूची से भी प्रत्येक न्यायालय में समय निकालकर संबंधित प्रकरण का स्टेटस देखे कई बार अपील से प्रकरण निपटकर आ जाता है और सीधे रिकार्ड रूम में जमा करवा दिया जाता है ऐसे प्रकरण भी तलाश करने पर मिलेंगे।

15 मालखाना नाजिर का यह कर्तव्य है कि वह समुचित प्रयास करे कि मालखाना वस्तुओं और मालखाना कक्ष इस तरह सुरक्षित रहे कि उसमें चोरी वगैरह की संभावना न रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *