बीमा एजेंटों का आरोप है कि सरकार ने 1972 से लेकर 2018 तक इंश्योरेंस एजेंटों का कमीशन नहीं बढ़ाया…

नई दिल्ली. ऑल इंडिया जनरल इंश्योरेंस एजेंट एसोसिएशन के बैनर तले देशभर के बीमा एजेंटों ने अपनी मांगों को लेकर जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन किया। एसोसिएशन के राष्ट्र्रीय महासचिव अनिरूद्ध दासगुप्ता ने कहा, “1972 से लेकर 2018 तक इंश्योरेंस एजेंटों का कमीशन नहीं बढ़ाया गया, इसलिए हमारी मांग है कि एजेंटों का कमीशन बढ़ाया जाए, वहीं इंसेटिव और अतिरिक्त सुविधा का पैसा एजेंटों को डेढ़ से दो वर्ष बाद दिया जाता है, जिससे इंश्योरेंश एजेंट उसका सही इस्तेमाल नहीं कर पाते।”

इंश्योरेंस एडवाइजर फोरम के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी गोयल ने कहा, “हमारी लम्बे समय से मांग है कि सीनियर सीटिजन को सस्ते में बीमा मिलना चाहिए और इन्श्योरेस एंजेटों का पर्सनल एक्सीडेंट पॉलिसी भी कंपनियों की ओर से होना चाहिए।”

उन्होंने कहा कि बीमा एजेंट कड़ी मेहनत कर ग्राहकों तक पहुंचते हैं और उनको विभिन्न बीमाओं की जानकारी देकर उन्हें लाभवान्वित करते हैं, लेकिन बीमा कंपनियों की लापरवाही और अड़यि़ल रवैये के कारण वे स्वयं सुरक्षित नहीं हैं।

गोयल ने कहा कि इसलिए बीमा एजेंट की मांगों को पूरा करने के लिए सरकार बीमा कंपनियों को निर्देशित करे और एजेंटों के जीवन एवं हित को सुरक्षित रखे। उन्होंने कहा कि अगर बीमा एजेंटों की मांगें नहीं मानी जाएंगी तो, बीमा एजेंट देशव्यापी आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे।








Source link

Leave a Reply